HOME    About This Site    mypage        Japanese    library    university    Feedback

Search:All of DSpace

(type:SARDA) is hit count [2903].
Results 461-470.
 

previous 38 39 40 41 42 43 44 45 46 47 48 49 50 51 52 53 54 55 56 next 

461 प्रश्नप्रकाश / रचयिता, राजराम ज्योतिषी / Jyotishī, Rājārāma -- (Rājā) Rāmakumāra[19--]SARDA
462 अथमनमौजचरित्र : जिसमें निजभक्तजन प्रणपालक असुर कुल घालक ब्रज जनानन्ददाता चतुर्दश भुवनपाता वृषभानु सुता मुखकमलप्रकाशी सर्वसुखराशी श्रीकृष्णचन्द्र आनन्दकन्द और राधिका महारानी की लीला आदि बहुत से माहात्म्यउत्तमदोहासोरठाकुण्डलियाआदिमेंबर्णितहैं / चतुरदास कृत / Caturadāsa -- Navalakiśora1886 SARDA
463 माण्क्योपनिषद् : भाषा-टीका-सहित / अनुवादक, रायबहादुर बाबू ज़ालिमसिंह / Zālimasiṃha -- Navalakiśora1928 SARDA
464 बंशीरागमाला : जिसमें षट् राग अर्थात भैरव, मेघ, श्री, वसन्त, कर्नाट, हिंडोलादि प्रत्येक रागोंकी छः छः रागनियों सहित स्वर स्वरूप व सवैयादि मनोहर छन्दोंमें वर्णित हैं / लोकनाथकवि द्विदेवी ने निर्म्मित किया / Dvivedī, Lokanāthakavi -- Navalakiśora1889 SARDA
465 सुन्दरकाण्ड : जिसमें श्रीहनुमान्जीका लङ्कागमन, जानकीमिलाप व वार्त्तालाप तथा वाटिकामञ्जन व लङ्कादहनादि कथा आल्हाकी रीतिपर छन्दप्रबन्ध वर्णित है / बन्दीदीन दीक्षितने निर्मित किया / Dīkshita, Bandīdīna -- Navalakiśora1921 SARDA
466 श्रीद्वारकाश्रमयात्रादर्पण : जिसमें श्रीद्वारकाके समीप के प्रसिद्ध तीर्थस्थान व देव मन्दिर सर सरिता पर्व्वतादि जोकि यात्रा में मिलते हैं उन सबका वृत्तानात अच्छे प्रकार कथित है / बाबादूधदासने निर्मितकियाहै / Dūdhadāsa, Bābā -- Navalakiśora1889 SARDA
467 समयदीपिका / जिसमें पञ्चाङ्गविचार, स्थूलविचार, आढ़कविचार, शनिराशि व नक्षत्रविचार, सुभिक्ष, दुर्विक्ष विचारादि वर्णित हैं / रघुनाथराव / Raghunātharāva -- Navalakiśora1914 SARDA
468 ऋषिकुलशुभसमाचार / ताराचन्द शर्मा ने निर्मान कर प्रकाशित किया / Śarmā, Tārācanda -- Navalakiśora1915 SARDA
469 अनिरुद्धपरिणय / ललनपिया ने रचना किया / Lalana Piyā -- Navalakiśora1903 SARDA
470 रामबिनयबाटिका : सच्चिदानन्द आनन्दकन्द श्रीरामचन्द्रजीके विशेष रीतिसे अनेकप्रकारके रागोंके द्वारा अत्यन्त ललितपद वर्णन किये गये हैं / जानकीप्रसादने रचना किया / Prasāda, Jānakī -- Navalakiśora1897 SARDA

previous 38 39 40 41 42 43 44 45 46 47 48 49 50 51 52 53 54 55 56 next