HOME    About This Site    mypage        Japanese    library    university    Feedback

Search:All of DSpace

(type:SARDA) is hit count [2903].
Results 481-490.
 

previous 40 41 42 43 44 45 46 47 48 49 50 51 52 53 54 55 56 57 58 next 

481 देशी कसरत का अनुक्रम / गणपति लाल चौबे ने बनाया / Caube, Gaṇapati Lāla -- Navalakiśora1904 SARDA
482 उपनिषत्सारसंग्रह / लेखक, रायबहादुर काशीनाथ / Kāśīnātha -- Newul kishore1933 SARDA
483 हिन्दुस्तान के मध्यप्रदेश का भूगोल / मुन्शी डोरी लाल ने कई अंग्रेज़ी पुस्तकों का सार लेकर फिर से बनाया / Ḍorī Lāla, Munśī -- Navalakiśora1876 SARDA
484 सुन्दरकाण्ड : श्रीपरब्रह्म परमात्मा रामचन्द्रजी महाराजका चरित्र अध्यात्म विद्या वेदान्त शास्त्र की रीति से श्रुतिसमन्वयपूर्वक वर्णन कियागया है / यमनाशंकर नागर / Nāgara, Yamunāśaṅkara -- Navalakiśora1905 SARDA
485 स्वप्नप्रकाश : जिसमें श्रीलड़ैतीलाल जनकनन्दनी दशरथराजकुमार परमरसखानके स्वप्नप्रकाशकी लीलाबर्णनहै / नन्दकिशोर दुबेरचित / Dube, Nandakiśora -- Navalakiśora1884 SARDA
486 युद्धकाण्ड : श्रीपरब्रह्म परमात्मा रामचन्द्रजी महाराज का चरित्र अध्यात्मविद्या वेदान्तशास्त्र की रीति से श्रुति समन्वयपूर्वक वर्णन कियागया है / यमुनाशंकर नागर / Nāgara, Yamunāśaṅkara -- Navalakiśora1913 SARDA
487 बाल-कथा-कौमुदी / लेखिका, तुलसीदेवी दीक्षित ; संपादक, प्रेमचंद / Dīkshita, Tulasīdevī,Premacanda, 1881-1936 -- Navalakiśora1929 SARDA
488 श्रीमद्भगवद्गीता : व्रजभाषा-पद्यानुवाद-सहिता / लेखक, स्वामी तुलसीराम मिश्र / Tulasīrāma, Swāmī -- Navalakiśora1925 SARDA
489 दिल्लगी का ख़ज़ाना / Navalakiśora1913 SARDA
490 गर्गसंहिता भाषा : जिसमें श्रीविष्णुउपासकोंकी प्रीति के लिये गोलोकखण्डादि नवअंशों में श्रीकृष्णचन्द्रजी महाराजका श्रीगर्गावार्यमुखनिर्मित संस्कृत गर्रसंहिता और अनेक प्रमाणिक उत्तमोत्तमग्रन्थोंकी कथाओंका मूल सारांश लीलाविलास दोहा, चौपाई, सोरठा, कवित्वादि सुगम छन्दों में वर्णित है / गिरिधरदास रचित / Giridharadāsa, 1833-1860 -- Navalakiśora1915 SARDA

previous 40 41 42 43 44 45 46 47 48 49 50 51 52 53 54 55 56 57 58 next